शीतेश जैन ने सोशल मीडिया के माध्यम से मिली जानकारी के बाद तत्काल जिला चिकित्सालय पहुंच कर जरूरतमंद को किया अपना 26 वा. रक्तदान..

शीतेश जैन ने सोशल मीडिया के माध्यम से मिली जानकारी के बाद तत्काल जिला चिकित्सालय पहुंच कर जरूरतमंद को किया अपना 26 वा. रक्तदान..





दमोह - जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीज डालचंद विश्वकर्मा के लिए रेयर ग्रुप ए नेगेटिव ब्लड की सख्त आवश्यकता थी। जैसे ही यह जानकारी सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त हुई बैठे ही तत्काल रक्तदान के लिए समर्पित शीतेष जैन ने बिना देर किए हैं, जिला अस्पताल पहुंचकर अपना रेयर ग्रुप ए नेगेटिव रक्तदान कर मरीज की मदद की। आपको बता दें की शीतेश निरंतर ही रक्तदान कर जरूरतमंदों की मदद करते आ रहे हैं। और लोगों को रक्तदान के माध्यम से जागरूक भी करते हैं, रक्तदान के प्रति इनके समर्पण को देखते हुए लोगो के द्वारा इनकी सराहना की जाती है। 

और इनके द्वारा लगातार लोगों के लिए रक्तदान करने के प्रति जागरूक किया जाता है। आपको बता दें की शीतेश आज 26 वीं बार रक्तदान कर चुके हैं, मुख्य रूप से आज उनकी नानी जी की पुण्यतिथि भी है, जिनका कहना है, रक्तदान महादान दान है, करके देखो अच्छा लगता है। किसी इंसान के लिए मरने के बाबजूद भी दूसरे इंसान के अंदर रक्त के माध्यम से जिंदा रहने से बडकर कोइ दान नही हो सकता। इस दौरान मुख्य रूप से रक्तदाता शीतेष जैन, रक्तदान जीवनदान सेवा समिती के सक्रिय सद्स्य दीपक जैन एवं मरीज के परिजन व जिला चिकित्सालय स्टाफ की मौजूदगी रही।


संध्या शुक्ला ने राजनैतिक भ्रष्टाचारियों पर कसा तंज... कहा, राजनिति में भ्रष्टाचारियों की भरमार, ईमानदार लोगों का पड़ चुका है अकाल...



दमोह - परम पूज्य सदगुरुदेव प्रतिपल स्मरणीय धर्म सम्राट युग चेतना पुरुष सदगुरुदेव परमहंस योगीराज श्री शक्तिपुत्र जी महाराज द्वारा विश्व शांति जन कल्याण सामाजिक सद्भावना एवं धर्म आत्मोत्थान हेतु निरंतर चलाए जा रहे श्री दुर्गा चालीसा अखंड पाठ विभिन्न प्रदेशों के विभिन्न स्थलों पर आयोजित होते रहे हैं इसी कड़ी में दमोह जिले के विकासखंड पथरिया ग्राम मगरधा में भगवती मानव कल्याण संगठन शाखा पथरिया द्वारा 24 घंटे का अखंड श्री दुर्गा चालीसा पाठ का आयोजन 27 नवंबर दोपहर से 28 नवंबर दोपहर तक किया गया। आज श्री दुर्गा चालीसा पाठ के समापन अवसर पर भारतीय शक्ति चेतना पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष बहन संध्या दीदी एवं भगवती मानव कल्याण संगठन के केंद्रीय मुख्य सचिव आशीष शुक्ला सम्मिलित होने के लिए दमोह पधारे दमोह आगमन पर राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं मुख्य सचिव का दमोह के समन्ना तिराहे पर संगठन कार्यकर्ताओं द्वारा भव्य स्वागत ढोल नगाड़ो पुष्प वर्षा आदि से किया गया समन्ना बाईपास से जटाशंकर जेल तिराहा कोतवाली चौराहा घंटाघर पलंदी चौराहा से होते हुए रैली निकालते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं मुख्य सचिव पथरिया के लिए प्रस्थान किया।

पथरिया के ग्राम मगरधा में भारतीय शक्ति चेतना पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष बहन संध्या शुक्ला का आज आगमन हुआ जिन्होंने संबोधित करते हुए कहा कि पंचज्योति शक्ति तीर्थ सिद्धाश्रम धाम में प्रत्येक दिन कोई ना कोई नशा मुक्त होने के लिए आता है, लोग आश्चर्य करते हैं कि यह चमत्कार कैसे होता है सदगुरुदेव ने कहा है कि यदि कोई मेरी साधना को चुनौती देता है मेरी साधना को झुका देता है तो सारा जीवन उसके चरणों में झुका दूंगा ऐसा कोई महात्मा धर्माधिकारी है जो ऐसा कह सके साधु तो बहुत मिल जाएंगे लेकिन ऐसे कोई धर्माधिकारी है तो आप ढूंढते रह जाओगे ऐसा कोई प्राप्त नहीं होगा क्योंकि कहीं ना कहीं वह कमजोर है साधुओं का ज्ञान तो प्राप्त कर लिया लेकिन कहीं ना कहीं साधुओं के ज्ञान और साधुओं की समाधि आदि धारण नहीं कर पाए उनकी कथनी व करनी में अंतर है। जिसको कोई डिगा ना पाए जिसको कोई भटका ना पाए।

मैं एक ऐसे धाम से जोड़ना चाहती हूं जो सिर्फ देना जानते है अपने आशीर्वाद के माध्यम से अपने सेवा के माध्यम से। जो कहते हैं कि धर्म करने वाले को पूजा पाठ करने वाले को राजनीति से मतलब नहीं होना चाहिए उनसे सवाल है पूजा पाठ करने वाला साधना करने वाला क्या राष्ट्र का हिस्सा नहीं है क्या राष्ट्र के कानून उस पर लागू नहीं होते क्या राष्ट्र में हो रही राजनीति उनके ऊपर अधिकार नहीं करती क्या देश का जो नेता है उनका नेता नहीं होता और यदि होता है तो प्रत्येक धर्माधिकारी को राजनीति का अधिकार होता है। आज की राजनीति खेल बन के रह गई है, कोई राजनीति को खेल कहता है कोई युद्ध कहता है कौन कितना भ्रष्टाचार कर सकता है कौन समाज को अपनी बातों में लुभा सकता है वहीं देश के नेता बने बैठे।ईमानदार लोगों का राजनीति में अकाल पड़ गया है ईमानदार लोग राजनीति से बचने लगी है राजनीति का पूरा स्वरूप भ्रष्ट हो चुका है, चुनाव छोटे हो या बड़े हो सभी में पैसा होता है।

जो पैसा समाज के हित के लिए लगना चाहिए वह चुनाव में पानी की तरह बहाया जाता है हर नेता अपने आपको इमानदार बताता है और सामने बैठी जनता को चंद पैसों की लालच में खरीद लेते है यदि देश की जनता जाग जाए देश की जनता चाहे तो कोई भी भ्रष्टाचारी देश पर राज नहीं कर सकता। वहीं पर भगवती मानव कल्याण संगठन के मुख्य सचिव आशीष शुक्ला राजू ने कहा कि मगरदा गांव सहित पूरे दमोह जिले को गुरुवर ने आशीर्वाद भेजा है आप लोगों ने बुलाया हम लोग आपके मगरदा है अब हम आप मंगल दा गांव सहित पूरे दमोह जिले को होने वाले महाशक्ति शंखनाद शिविर मे 22, 23 जनवरी मे होने बाले शिविर मे आमंत्रित किया और कहा नरेंद्र गिरी जैसे संत सभी संतो की चेतना जागृत नहीं है सभी संत अंदर से खोखले हैं शक्तिपुत्र जी महाराज ने पूरे बेस्ट आध्यात्मिक जगत को अपने साध आत्मक तब्बल की चुनौती दी है अगर किसी मे तागत हो तो सामना करें आभार व्यक्त भारतीय शक्ति चेतना पार्टी ब्लॉक अध्यक्ष लाल सिंह ने किया।


*मौत और बेबसी का रास्ता,आजादी के 75 साल बाद भी सुविधाविहीन ग्रामीण*।

जगदीश विश्वकर्मा


दमोह (हटा) - कहने को तो देश आजाद हो चुका है ,प्रधानमंत्री देश को डिजिटल इंडिया बनाने का सपना देख रहे है पर वास्तविकता की गहराई में जाके देखा जाये तो आज भी कई बड़ी आबादी वाले गांव ऐसे है जहाँ बदलते  जमाने का  नामोनिशान भी नही दिखता ,मामला दमोह जिले के हटा तहसील की ग्राम पंचायत देवारागढी   के भटदेवा गांव का है , जहाँ आजादी के 75 साल बाद भी  लगभग 600 व्यक्तियों की  आबादी वाले गांव को मूलभूत आवश्यकताओं के लिए जोड़ने वाले रास्ते पर सड़क का नामोनिशान नही है ,लोग बताते है  कि शायद ही हो कोई नेता वोट मांगने के बाद इस गाँव की ओर भटका हो ,ग्रामीणों की बेबसी बरसात में और भी दुखद हो जाती है , न जाने कितनी ही महिलाओं को डिलेवरी के समय जैसे तैसे करके सिविल अस्पताल हटा तक पुहुचाया जाता है ,बीते वर्ष दुर्गम रास्ते पर ट्रैक्टर पलट जाने से एक व्यक्ति की मौत भी हो चुकी है ,समस्या पर निजात पाने ग्रामीणों ने अपने चुने गए जनप्रतिनिधियों के पास भी कई सालों से चक्कर लगाए पर अफसोस आज तक उनकी समस्याओं की कोई सुध जनप्रतिनिधियों द्वारा नही ली गई बताते है कि वर्ष 2010 में वर्धा में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आए थे तब उन्हें भी एक आवेदन दिया था, उसके बाद 2014 में सांसद प्रहलाद सिंह पटेल, 2014 में तत्कालीन विधायक उमादेवी खटीक को, 2016 रामकृष्ण कुसमरिया तत्कालीन कृषि मंत्री मध्य प्रदेश शासन, वर्ष 2017 में जिला कलेक्टर को, 2019 को गोपाल भार्गव वर्तमान में मध्यप्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री , 2020 में वर्तमान के विधायक पीएल  तंतुवाय , सरपंच सचिव एवं समस्त अधिकारियों से समय-समय पर ज्ञापन के माध्यम से रोड बनाने की मांग ग्रामीणों द्वारा की गई पर केंद्र और प्रदेश दोनों में राज करने वाली सरकार ग्रामीणों को  सड़क मुहैया न करा पाई जिसके बाद अब जाके समूचे गाँव ने चुनाव बहिष्कार का फैसला लिया है ,ग्रामीण कहते  है लोकतंत्र  अर्थात जनता का शासन जब हमारे द्वारा चुना गया जनप्रतिनिधि ही हमारी मूलभूत आवश्यकताओं को पूरा नही कर सकता तो ऐसे चुनाव का क्या फायदा,इसलिए हम सब अब से सड़क न बनने तक  चुनाव का पूर्ण वहिष्कार करते है।      


 "उक्त विषय पर मुझे जानकारी है मैंने इस संबंध में मुख्यमंत्री जी प्रस्ताव भेजा है उनका आश्वासन भी मिला है "।          
 (हटा विधायक) पी. एल. तन्तुवाय

Post a Comment

Please Do Not Enter Any Span Link In The Comment Box

Previous Post Next Post
Nature
Nature Nature
loading...